15.2 C
Dehradun
Saturday, February 17, 2024

झमाझम बारिश में दून के ड्रेनेज सिस्टम की पोल खुली हुई थीं, जिससे कारें सड़कों पर तैरती नजर आईं

दून में मंगलवार रात से रुक-रुककर हो रही बारिश के कारण दून की सड़कें जलमग्न हो गई। कई जगह सड़कों पर इतना पानी भर गया कि कारें भी तैरती नजर आईं। इससे निगम के ड्रेनेज सिस्टम की भी पोल खुल गई। निगम दावे कर रहा था कि बरसात से पहले जल निकासी के लिए सभी नालों को साफ कर दिया जाएगा लेकिन ये दावे भी बुधवार की बारिश में हवाई साबित हुए।

रिस्पना पुल के पास तो सड़क पर इतना पानी भर गया था कि बसें भी आधी डूबी नजर आईं। प्रिंस चौक और आईएसबीटी में घुटनों तक पानी भरा था। राजपुर रोड और दून अस्पताल वाली सड़क, दिलाराम चौक, पलटन बाजार, दर्शनलाल चौक, माजरा, हरिद्वार रोड पर सड़कें नालों में तब्दील हो गईं। इस वजह से लोग दिनभर जाम से जूझते नजर आए। हैरत की बात है कि इस मुसीबत से निजात दिलाने के लिए कोई भी अधिकारी या कर्मचारी सड़क पर नजर नहीं आया।

पानी भरा होने के कारण लंबा जाम

कहने को दून स्मार्ट सिटी है लेकिन बारिश में जो हालत हो रही है, उससे लोग यही कह रहे हैं कि इससे अच्छी तो हमारी पुरानी सिटी थी। लोगों का आरोप है कि पहले जिन जगहों पर भारी बारिश में भी पानी नहीं भरता था, वहां आज हल्की बारिश में सड़कें तालाब नजर आ रही हैं। मंगलवार देर रात से बुधवार शाम करीब चार बजे तक हुई बारिश ने स्मार्ट सिटी की पोल भी खोल दी। चारों ओर इतना पानी दिख रहा था मानों सिटी डूब रही हो।

आईएसबीटी के पास हाल ही में एनएच की ओर से ड्रेनेज के लिए नाले का निर्माण किया गया है। लेकिन, बुधवार को यहां भी घुटनों तक पानी भरा हुआ था। इसी प्रकार प्रिंस चौक पर भी घुटनों से ऊपर पानी भरा हुआ था, जिससे आसपास की दुकानों में पानी भर गया। माजरा, राजपुर रोड, ईसी रोड, चंदर नगर रोड, मोहकमपुर में हाईवे पर भी पानी भरा होने के कारण लंबा जाम लगा रहा।

 

कई इलाकों में घरों में घुसा पानी

दून के कई इलाकों में पानी घुसने से लोगों को काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ा। नगर निगम आपदा कंट्रोल रूम में जलभराव की 23 से अधिक शिकायतें आईं। इसमें बंजारावाला, अजबपुरकलां, आजाद विहार, ऋषि विहार, हरिपुर नवादा, बद्रीश कॉलोनी, सेवलाकलां, मोहनी रोड, दिलाराम बाजार, प्रिंस चौक, दर्शनलाल चौक, परेड ग्राउंड, कनक चौक, सरस्वती विहार, नेहरू ग्राम, वन विहार, अजबपुर खुर्द आदि इलाके शामिल हैं। यहां सड़कों के साथ ही घरों में भी पानी घुस गया था।

मोथरोवाला में रात को बनाई सड़क सुबह तक धंस गई

मोथरोवाला में एडिफाई स्कूल को जानी वाली सड़क सीवर लाइन के लिए खोदी गई थी। मंगलवार रात को एडीबी की ओर से यहां सड़क बनाई गई थी लेकिन बारिश के चलते पूरी सड़क धंस गई। स्थानीय लोग जहां गुणवत्ता पर सवाल उठा रहे हैं, वही एडीबी के प्रोजेक्ट मैनेजर संजय तिवारी ने बताया कि सड़क का निर्माण अस्थायी तौर पर किया गया था। सड़क रात को ही बनाई थी और तभी भारी बारिश हो गई। जिसके कारण सड़क धंस गई। फिर से सड़क का निर्माण किया जाएगा।

बंजारावाला के राजेंद्र एन्क्लेव में टूटी घर की दीवार, धंसा फर्स

बंजारावाला के राजेंद्र एन्क्लेव में सड़क का पानी एक घर में घुस गया। पानी का बहाव इतना तेज था कि घर की दीवार क्षतिगस्त हो गई और फर्स भी धंस गया।

सीवर और पेयजल लाइन के लिए खुदी सड़कें कीचड़ में हुई तब्दील

दून के बंजारावाला, मोथरोवाला, आरकेडिया में सीवर लाइन और पेयजल लाइन बिछाने का काम चल रहा है। बारिश के कारण यहां तमाम सड़कें कीचड़ में तब्दील हो गई हैं। इससे लोगों का घरों से बाहर निकलना तक मुश्किल हो गया है। मोहकमपुर के ऋषिकेश कॉलोनी और मधुवन कॉलोनी में जलभराव से निजात के लिए खोदे गए रिचार्ज पिट का मलबा सड़क पर ही पड़ा होने के कारण बारिश में लोगों को परेशानी का सामना करना पड़ा।
 

सहस्रधारा कार्लीगाड और सोडा सरौली मार्ग मलबा आने से बंद

लोक निर्माण विभाग प्रांतीय खंड के अंतर्गत आने वाले सहस्रधारा-कार्लीगाड-सरोना मार्ग और सोडा सरौली अखंडवाली, भिलंग मोटर मार्ग पर मलबा आ गया। इससे इन मार्गों पर आवाजाही ठप हो गई। लोक निर्माण विभाग की टीम मौके पर पहुंचकर मलबा हटाने का काम कर रही है। दावा किया जा रहा है कि सुबह तक मार्ग को आवाजाही के लिए खोल दिया जाएगा।

Related Articles

Stay Connected

0FansLike
3,912FollowersFollow
0SubscribersSubscribe
- Advertisement -spot_img

Latest Articles