34.2 C
Dehradun
Friday, May 24, 2024

मंत्री गणेश जोशी ने सैन्यधाम का किया निरीक्षण, निर्माण कार्यों की धीमी गति पर अधिकारियों को लगाई फटकार

दिन रात कार्य करने के निर्देश

देहरादून। सैनिक कल्याण मंत्री गणेश जोशी ने देहरादून स्थित गुनियालगांव में निर्माण हो रहे उत्तराखंड के पंचम धाम सैन्यधाम स्थल का निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान सैनिक कल्याण मंत्री गणेश जोशी ने सैन्य धाम के निर्माण कार्य की धीमी गति पर नाराजगी व्यक्त की और अधिकारियों को फटकार लगाते हुए अधिकारियों को दिन रात कार्य करने के सख़्त निर्देश दिए।

निरीक्षण के उपरांत सैनिक कल्याण मंत्री ने सैन्यधाम में विभागीय अधिकारियों, जिला प्रशासन एवं कार्यदायी संस्था के अधिकारियों के साथ बैठक कर आवश्यक दिशा निर्देश दिए। सैनिक कल्याण मंत्री ने अधिकारियों को सैन्यधाम के निर्माण कार्य को तय समय सीमा के भीतर हर हाल में पूर्ण करने के निर्देश दिए। उन्होंने निर्माण से सम्बन्धित कार्यों को तेजी से करने और हर हाल में दिसंबर माह तक पूर्ण करने के अधिकारियों को निर्देशित किया। उन्होंने कहा कि देश की सुरक्षा में तैनात हर पांचवां सैनिक उत्तराखंड से है। देश को जब-जब जरूरत पड़ी उत्तराखंड के वीरों ने अपना सर्वोच्च बलिदान दिया। उन्होंने कहा कि बलिदानी की कोई जाति या धर्म नहीं होता उन्होंने बलिदानियों का सम्मान उनकी यादों को संजोए रखना हर नागरिक का कर्तव्य है।

मंत्री ने कहा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी हर सैनिक के प्रति अपनत्व और आत्मीयता का भाव रखते हैं। वह हर सैनिक की चिंता करते हैं। उन्हीं की परिकल्पना से आज सैन्य धाम का निर्माण किया जा रहा है। मंत्री ने कहा सैन्यधाम का मुख्य गेट देश के प्रथम सीडीएस जनरल बिपिन रावत के नाम से बनाया जा रहा है। जोशी ने कहा, जैसे चारों धामों के दर्शन करने लोग आते हैं, उसी तरह सैन्य धाम को देखने भी आएंगे।

उन्होंने कहा  सैन्य धाम में 1734 बलिदानियों के आंगन की पवित्र मिट्टी के साथ-साथ प्रदेश की 28 प्रमुख नदियों से एकत्रित पवित्र जल भी अमर जवान ज्योति के मुख्य स्तंभ की आधारशिला में अर्पित किया गया। उन्होंने भोरोसा जताते हुए कहा दिसंबर माह तक सैन्य धाम प्रदेश की जनता को समर्पित किया जायेगा। इस अवसर पर सैनिक कल्याण निदेशक ब्रिगेडियर (सेनि) अमृतलाल, एसडीम नंदन कुमार, ज़िला पंचायत उपाध्यक्ष दीपक पुंडीर, अनुज कौशल, सुंदर कुठाल सहित राजस्व तथा बिजली विभाग के विभागीय अधिकारी उपस्थित रहे।

Related Articles

Stay Connected

0FansLike
3,912FollowersFollow
0SubscribersSubscribe
- Advertisement -spot_img

Latest Articles