23.2 C
Dehradun
Monday, April 15, 2024

परीक्षा में भाग नहीं लेने वाले विद्यार्थी को दिखाया

अल्मोड़ा। सोबन सिंंह जीना विश्वविद्यालय के सैकड़ों विद्यार्थी अल्मोड़ा, बागेश्वर, पिथौरागढ़ और चंपावत परिसरों और महाविद्यालयों में लापरवाही का शिकार हो रहे हैं। परीक्षा के बाद भी कई विद्यार्थियों को अनुपस्थित बताया गया, जिससे उनके अंकतालिका में अंक नहीं चढ़े हैं। ऐसे में, सभी महाविद्यालयों के 700 से अधिक विद्यार्थी विश्वविद्यालय की इस भूल को सहते हुए इसे सुधारने के लिए हेल्प डेस्क के चक्कर काटने को मजबूर हैं। इसके बाद भी उन्हें इस समस्या का समाधान करना मुश्किल हो गया है।

SSJ परिसर के प्रशासनिक भवन में हेल्प डेस्क पर लगी विद्यार्थियों की कतार विश्वविद्यालय प्रबंधन की लापरवाही को उजागर करती है। SSJ परिसर सहित कई महाविद्यालयों में विद्यार्थी अंकतालिका में हुई गड़बड़ी सुधारने के लिए यहां आ रहे हैं। विषय के अंक बहुत से विद्यार्थियों की अंकतालिकाओं में नहीं चढ़े हैं, इसलिए उनके असाइनमेंट के अंक नहीं जुड़े हैं।

विद्यार्थियों को परीक्षा देने के बावजूद विषय में अनुपस्थित बताया गया है। विद्यार्थियों को इससे मुश्किलों का सामना करना पड़ रहा है। Университет प्रबंधन ने बताया कि ऐसे विद्यार्थियों की सूची महाविद्यालयों और परिसरों से भेजी जा रही है। अंकतालिकाओं की त्रुटि इसके बाद दूर हो सकेगी। विद्यार्थियों को राहत देने के लिए विश्वविद्यालय ने सीओपी के तहत अगले सेमेस्टर में प्रवेश दिया है। लेकिन कोई नहीं जानता कि यह गड़बड़ी कब तक खत्म होगी। संवाद

विद्यार्थी बोलें

परीक्षा में भाग नहीं लेने वाले विद्यार्थी को दिखाया

– मेरे असाइनमेंट का नबंर अंकतालिका में नहीं है। अंक तालिका के अनुसार, परीक्षा असफल रही है। हस्तांतरण के तहत अगले सेमेस्टर में प्रवेश प्राप्त हुआ है। भारतीय बिष्ट
– मैं सीओपी के तहत अगले सेमेस्टर में शामिल हो गया हूँ क्योंकि मैं अंकतालिका में नंबर नहीं चढ़ा। अंकतालिकाओं में गड़बड़ी होने से कई विद्यार्थियों का भविष्य अंधेरे में है। राहुल कुमार कनवाल।

संबंधित परिसरों और महाविद्यालयों से विद्यार्थियों की अंकतालिकाओं में हुई गड़बड़ी की जांच के लिए अंकों की सूची मांगी गई है। सूची आने के बाद अंकतालिकाओं की त्रुटि दूर की जा सकती है। – प्रो. जीसी साह, परीक्षा नियंत्रक, SJ University, अल्मोड़ा

University of Virginia की लापरवाही का खामियाजा विद्यार्थी भुगत रहे हैं। ताकि प्रभावित विद्यार्थियों का भविष्य खतरे में न पड़े, अंकतालिका में गड़बड़ी को जल्द ही दूर करना चाहिए।

Related Articles

Stay Connected

0FansLike
3,912FollowersFollow
0SubscribersSubscribe
- Advertisement -spot_img

Latest Articles