10.6 C
Dehradun
Thursday, February 22, 2024

भाजपा-कांग्रेस कालखंड में विधानसभा बैकडोर भर्तियां होंगी निरस्त! अध्यक्ष ऋतु खंडूरी ने तीन सदस्यीय कमेटी की गठित

देहरादून। विधानसभा की भर्तियों के प्रकरण की जांच के लिए विधानसभा अध्यक्ष ऋतु खंडूरी भूषण ने तीन सदस्यीय विशेषज्ञ समिति गठित की। समिति में पूर्व आइएएस डीके कोटिया अध्यक्ष और सुरेंद्र सिंह रावत व अवनींद्र नयाल सदस्य होंगे।समिति एक माह में देगी रिपोर्ट। जांच होने तक सचिव विधानसभा मुकेश सिंघल को छुट्टी पर भेजा।
विधानसभा अध्यक्ष ने पत्रकारों से बातचीत में दी जानकारी।
उन्होंने कहा, कि वर्ष 2012 से 2022 तक की नियुक्तियों की समिति करेगी जांच।
इसके अलावा 2000 से 2011 तक उप्र की नियामवली थी। इसे भी जांच के दायरे में लाया जाएगा।

गोविंद सिंह कुंजवाल रख गए थे 159 कर्मचारी
कांग्रेस नेता गोविंद सिंह कुंजवाल ने वर्ष 2016 में स्पीकर रहते 159 कर्मचारी भर्ती किए थे। इनमें छह रक्षक ऐसे भी हैं जिन्हें पीआरडी से रखा गया। खास बात यह है कि अपने विधानसभा क्षेत्र जागेश्वर के कई लोगों को उन्होंने नौकरियां दीं। उनके कार्यकाल में रखे गए काफी कर्मचारी अभी तक नियमित नहीं हो पाए हैं, जिस वजह से इनकी नौकरियों पर अब संकट खड़ा हो गया है।

प्रेमचंद ने की थी 72 भर्तियां
भाजपा नेता प्रेमचंद अग्रवाल ने स्पीकर रहते आचार संहिता से ऐन पहले जनवरी में भर्तियों की तैयारी कर ली थी। उन्होंने 72 लोगों को विधानसभा में नियुक्तियां दीं। लेकिन वित्त के पेच के चलते वेतन का संकट खड़ा हो गया था। भाजपा सरकार के दूसरे कार्यकाल में वित्त मंत्री का भी दायित्व मिलते ही सबसे पहले उन्होंने उक्त फाइल को मंजूरी दी। अब ये भर्तियां उनके गले की फांस बन चुकी हैं।

Related Articles

Stay Connected

0FansLike
3,912FollowersFollow
0SubscribersSubscribe
- Advertisement -spot_img

Latest Articles