22.8 C
Dehradun
Tuesday, April 16, 2024

Uttarakhand में मौसम: गंगा खतरे के निशान के पार, कई पुल और घर बहे, एक की मौत केदारनाथ में

आज Uttarakhand का मौसम: गंगोत्री-यमुनोत्री और बदरीनाथ राजमार्ग भी बारिश के कारण बंद हैं। यमुना नदी और अन्य सहायक नदी-नाले यमुना घाटी में मूसलाधार बारिश से उफान पर हैं।

उत्तराखंड में बारिश अभी भी जारी है। हरिद्वार ऋषिकेश में बारिश के चलते गंगा खतरे के निशान से ऊपर बह रही है। वहीं, गंगा भी खतरे के निशान से ऊपर बह रही है। यहां, अल्केश्वर घाट में पानी मंदिर क्षेत्र तक पहुंच गया है।

भारी बारिश के बाद केदारनाथ के लिनचोली में एक नेपाली नागरिक की मौत हो गई, जबकि मध्यमहेश्वर में एक यात्री फंस गया। उधर, निरंतर बारिश से बनतोली में गौण्डार-मद्ममहेश्वर पैदल मार्ग पर एक पुल बह गया है। जिससे मध्यमहेश्वर में 200 से अधिक लोग फंस गए हैं।

चमोली में बहुत से घर मलबे में दबे हुए हैं।

रविवार रात से चमोली जिले में भारी बारिश जारी है। गाड गदेरे नदी राज्य के थराली, नंदानगर और पीपलकोटी जिलों में बहती है। थराली में सबसे अधिक क्षति हुई है। यहां कई घर और गौशालाएं मलबे में दब गई हैं, खासकर थराली गांव और केरा गांव में।

दो बाइकों पर सवार हुए

रविवार देर रात नैनीताल के बैलगढ़ बरसाती नाले में बाइक पर सवार दो लोग बह गए। दोनों को सूचना मिलने पर पुलिस, फायर कर्मी और स्थानीय लोगों की मदद से सुरक्षित बचाया गया।

कई जगह सड़कें बंद हैं

गंगोत्री-यमुनोत्री और बदरीनाथ राजमार्ग भी बारिश के कारण बंद हैं। यमुना नदी और अन्य सहायक नदी-नाले यमुना घाटी में मूसलाधार बारिश से उफान पर हैं। यमुनोत्री हाईवे पर बोल्डर और मलबा आने से रोक लगाया गया है। निरंतर बारिश के कारण हाईवे को खोलने की कोशिश शुरू नहीं हुई है।

उधर, बारिश से ऋषिकेश गंगोत्री राजमार्ग भद्रकाली, प्लास्डा, चाचा-भतीजा और बगड़धार के पास बाधित हो गया है। यमुनोत्री राष्ट्रीय राजामार्ग भी धरासू बैंड में बंद है।

कई स्थानों पर बदरीनाथ राजमार्ग मलबा और बोल्डर से बंद है। गडोरा और जोशीमठ के समीप मारवाड़ी में राष्ट्रीय राजमार्ग बंद है। बदरीनाथ धाम और हेमकुंड साहिब की यात्रा पर जा रहे लोग भी कहीं फंसे हुए हैं। नंदप्रयाग और छिनका में भी राजमार्ग मलबा आने से बंद हो गया है।

कोटद्वार में १५ घर बहे

नायब तहसीलदार मनोहर सिंह नेगी ने बताया कि कोटद्वार में खोह नदी के उफान पर आने से गाड़ीघाट, झूला पुल बस्ती और काशीरामपुर तल्ला में लगभग 15 मकान बह गए। कोटद्वार में स्टेट हाइवे 9 में दुगड्डा ब्लॉक मुख्यालय के पास भूस्खलन से सड़क जाम हो गया है। वाहनों का संचालन भी कई जगह ठप है।

मसूरी शहर में बारिश की वजह से लिंक मार्ग बंद हो गया है। बालाहिसार शहर में सड़क पर एक भारी पेड़ गिर गया, जिसके चलते लिंक मार्ग बंद हो गया।
सेलाकुई में विकासनगर के पछवादून में नदी नाले उफान पर कई घर ध्वस्त हो गए हैं। जो सेलाकुई में चार झोपड़ियों में बह गया। वहीं एक फैक्ट्री भी बह गई। जस्सोवाला गांव में एक घर गिरा। यहां आसन नदी से सटे कृषि क्षेत्रों में जमीन की क्षति हुई है।

जाखन नदी पर पुल का एक हिस्सा गिरा

जाखन नदी पर बनाए गए थानों भोगपुर पुल का एक हिस्सा बह गया है। पुलिस ने रास्ता बंद कर दिया है। वहीं थानों में सिन्धवाल गांव के विदालना पुल का भी एक हिस्सा बह रहा है। कई स्थानों पर सड़कें भी बह गई हैं। भोगपुर में खाले का पानी के घरों में महादेव ने प्रवेश किया है।

चंद्रभागा नदी में एक ट्रक बहा

चंद्रभागा नदी ऋषिकेश में उफान पर आ गई। ढलवाला में एक ट्रक नदी में गिर गया। वहीं, गंगा का जलस्तर बढ़ने से गौहरी माफी में भी आबादी वाले क्षेत्रों में पानी घुस गया। SDRF के जवानों ने यहां राहत और बचाव कार्य शुरू कर दिया है।

Related Articles

Stay Connected

0FansLike
3,912FollowersFollow
0SubscribersSubscribe
- Advertisement -spot_img

Latest Articles