20.8 C
Dehradun
Friday, April 12, 2024

Pakistan: इमरान खान, जो जेल में हैं, ने इस्लामाबाद हाईकोर्ट से रिहाई की मांग की, क्योंकि उन्होंने सजा को पक्षपातपूर्ण बताया।

इमरान खान ने इस्लामाबाद हाईकोर्ट में अपील की और निचली अदालत के न्यायाधीश को पक्षपात करने वाला बताया. उन्होंने अपनी तीन साल की सजा को चुनौती दी।

इस्लामाबाद की एक निचली अदालत द्वारा तोशाखाना भ्रष्टाचार मामले में दोषी ठहराए जाने के बाद शनिवार को इमरान खान को उनके घर से गिरफ्तार किया गया। लेकिन अब इमरान अपनी रिहाई के लिए बहुत उत्साहित हैं। मंगलवार को, उन्होंने अपनी सजा को चुनौती देते हुए इस्लामाबाद हाईकोर्ट में अपील की. उन्होंने निचली अदालत के न्यायाधीश को पक्षपात करने वाला बताया और कहा कि यह न्यायपालिका पर एक तमाचा है।

इमरान ने अपनी सजा को रद्द करने की मांग की इस्लामाबाद उच्च न्यायालय में भ्रष्टाचार के एक मामले में दोषी ठहराए जाने के खिलाफ अपील की है। यह मामला पूर्व प्रधानमंत्री इमरान खान के वकील गौहर अली खान और ख्वाजा हारिस ने दायर किया है। याचिका में कहा गया कि तोशाखाना मामले में ट्रायल कोर्ट का फैसला कानून के खिलाफ है।

फैसला को बताया पक्षपातपूर्ण याचिकाकर्ता के वकीलों ने इस्लामाबाद उच्च न्यायालय से केंद्रीय अपील पर फैसला आने तक सजा को निलंबित करने का अनुरोध किया है। इमरान खान की याचिका में कहा गया है कि निचली अदालत का फैसला गैरकानूनी और पक्षपातपूर्ण है, इसे रद्द करना चाहिए।

वकील के दावे के बावजूद, इमरान खान को तोशाखाना भ्रष्टाचार मामले में तीन साल की सजा सुनाई गई है। अदालत ने उन्हें रावलपिंडी की अदियाला जेल में भेजे जाने का निर्देश दिया था, लेकिन वे पंजाब राज्य की अटक जेल में हैं। इमरान खान के अटॉर्नी जनरल नईम हैदर पंजोठा ने कहा कि उनकी स्थिति बहुत खराब है। उन्हें एक अंधेरे कमरे में स्थानांतरित किया गया है, जहां खुले में शौचालय है। इसके अलावा, दिन में मक्खियां मंडराती रहती हैं और रात में चीटियां आती हैं। किसी को उनसे मिलने की अनुमति नहीं दी जाती, जैसे कि वे आतंकवादी हैं।

यह तीन महीने में इमरान खान की दूसरी गिरफ्तारी है।

21 अक्तूबर, पिछले साल, पाकिस्तान के चुनाव आयोग ने पूर्व प्रधानमंत्री इमरान खान को तोशाखाना मामले में झूठे बयान देने और झूठ बोलने के लिए अयोग्य ठहराया था। खान को तीन महीने में दूसरी बार गिरफ्तार किया गया है। नौ मई को अल-कादिर ट्रस्ट भ्रष्टाचार मामले में इस्लामाबाद उच्च न्यायालय से इमरान खान की गिरफ्तारी के बाद, उनके समर्थकों ने हिंसक प्रदर्शन करके सैन्य प्रतिष्ठानों को जलाया। अब इमरान खान पर देश भर में 140 से अधिक मामले दर्ज हैं, जिनमें आतंकवाद, हिंसा, भ्रष्टाचार, ईशनिंदा और हत्या के आरोप शामिल हैं।

Related Articles

Stay Connected

0FansLike
3,912FollowersFollow
0SubscribersSubscribe
- Advertisement -spot_img

Latest Articles